Saturday, October 6, 2007

प्यारे तारे


चमकते हैं देखो ये सब तारे
लगते हैं कितने प्यारे प्यारे
एक चमक कर दूसरा चमकता
फिर चमकते हैं ये सारे

रात अँधेरी जब होती
चमकने लगते हैं ये तारे
घने बादल जब आते हैं
छुप जाते हैं ये तारे

चन्दा के साथी ये तारे
हर पल उसका साथ देते तारे
देखो कितने सारे तारे
लगते हैं हमको प्यारे प्यारे

- जलपरी 3

1 comment:

i am working said...

bahut achhe. great attempt. it is a good strat. keep the work going. see more, read more, experience more and write more.